RRB GROUP D : परीक्षार्थी के पास मिला पर्चा, 1 से 100 तक अंकों के सामने लिखे थे

rrb group d: the candidate
Publish : 07-09-2022 6:17 PM Updated : 07-09-2022 12:47 PM
Views : 89

RRB Group D Exam : यूपी में अलीगढ़ के लोधा थाना क्षेत्र के अलीगढ़-पलवल हाईवे पर स्थित आईटीएम कॉलेज में मंगलवार को आयोजित रेलवे की ग्रुप डी परीक्षा में सुबह की पाली में नकलची और शाम का पाली में एक मुन्नाभाई धरा गया। केंद्र व्यवस्था ने इन दोनों सहित कुल चार आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने नकलची व मुन्नाभाई को गिरफ्तार कर लिया है। दो अन्य की तलाश की जा रही है। आईटीएम कालेज में रेलवे की ग्रुप डी परीक्षा का आयोजित हो रही है। मंगलवार को सुबह की पहली पाली में केंद्र व्यवस्थापक ने परीक्षार्थी प्रदीप कुमार पुत्र प्रेमपाल निवासी इगलास को एक पर्चे के साथ पकड़ा। इस पर्चे पर एक से 100 अंक लिखे थे, सभी के सामने ए, बी, सी या डी लिखा हुआ था। इसे पकड़ने के बाद थाने लाया गया। 

 

पूछताछ में प्रदीप ने बताया कि इगलास के ही एक युवक ने उसे यह पर्चा दिया था। परीक्षा में सफल होने पर छह लाख रुपये के भुगतान का सौदा तय हुआ है। वहीं, शाम की पाली में केंद्र व्यवस्थापक व रेलवे बोर्ड की टीम गेट पर ही चेकिंग कर रही थी। तभी एक युवक पहुंचा और खुद को परीक्षार्थी सौरभ शर्मा पुत्र चंद्रपाल शर्मा निवासी जवां के तौर पर पेश करने लगा। संदिग्धता जाहिर होने पर चेकिंग टीम ने उसके आधार कार्ड को चेक किया। वह भी संदिग्ध पाया गया। 

 

कड़ी पूछताछ में उसने कबूल किया कि सौरभ शर्मा के स्थान पर वह परीक्षा देने के लिए आाया है। उसे इस एवज में 20 हजार रुपये मिलना तय हुआ है। इसके बाद इसे भी थाना पुलिस को बुलाकर गिरफ्तार करा दिया गया। मुन्नाभाई की असल पहचान विपिन कुमार पुत्र सुखवीर निवासी अर्राना के तौर पर हुई। पुलिस को केंद्र व्यवस्थापक लोकेश कुमार की ओर से दो प्रकरणों में अलग-अलग तहरीर दी गईं। पहली तहरीर में नकलची प्रदीप कुमार और उसे पर्चा देने वाले इगलास के व्यक्ति को आरोपी बनाया गया। वहीं, दूसरी तहरीर में विपिन कुमार और सौरभ शर्मा को आरोपी बनाया गया। पुलिस ने देर रात को दो मुकदमे दर्ज कर चारों को आरोपी बनाया। आज यानी बुधवार को विपिन व प्रदीप कुमार को जेल भेजा जाएगा। 

 

विपिन ने पहले अपना नाम छुपाया

थाना इंस्पेक्टर आदित्य कुमार यादव ने बताया कि मुन्नाभाई विपिन कुमार केंद्र व्यवस्थापक व उनकी टीम को पकड़े जाने के बाद भी गुमराह करता रहा। उसने अपना गलत नाम बता दिया। उसी नाम के साथ केंद्र व्यवस्थापक की ओर से तहरीर लिख थाना पुलिस को दी गई। थाना पुलिस ने जब आरोपी से उसका आधार कार्ड मांगा, तब जाकर खुलासा हुआ कि उसका असल नाम विपिन है। इसके बाद फिर से केंद्र व्यवस्थापक को बुलाया गया और उसके खिलाफ तहरीर लिखवाई गई।

 

सीओ गभाना मोहसिन खान  ने कहा कि रेलवे की ग्रुप डी की परीक्षा में एक नकलची व एक मुन्नाभाई पकड़ा गया है। कुल आरोपियों पर दो मुकदमे दर्ज किए हैं। दो आरोपी गिरफ्तार हैं। अन्य दो की तलाश की जा रही है।

/d38TQw846Y

RRB GROUP D : परीक्षार्थी के पास मिला पर्चा, 1 से 100

07-09-2022 6:17 PM
/KsTs0xlMRJ

स्नातक उत्तीर्ण लड़कियों को प्रोत्साहन राशि देने के नियम में होगा बदलाव,

08-08-2022 9:35 AM