मैं बेगूसराय आज 50 साल का हो गया हूं

i have turned 50 today
Publish : 02-10-2022 1:00 PM Updated : 02-10-2022 7:30 AM
Views : 79

बेगूसराय : मैं बेगूसराय हूं आज मैं 50 साल का हो गया। इन 50 वर्षों में मैने कई उतार चढ़ाव देखे हैं। मैने फर्टिलाइजर से यूरिया निकलते देखा है तो उसकी चिमनी से धुंआ बंद होते भी देखा है। 2 अक्टूबर 1972 को अस्तित्व में आने के बाद मैने बिहार में अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज कराई है।

बिहार की औद्योगिक एवं सांस्कृतिक राजधानी का तगमा मुझे मिला है तो मैने तस्कर सम्राट को भी जन्म दिया है। देश का पहला जेल ब्रेक मैने देखा है तो दिनकर जैसे ओजस्वी कवि मेरी ही कोख से जन्में हैं। देश का पहला बूथ लूट का दंश मैने झेला है तो वचनदेव कुंवर जैसे व्याकरणाचार्य ने मेरा रुतबा बढ़ाने का काम किया है। रामशरण शर्मा व राधाकृष्ण चौधरी जैसे ख्यातिलब्ध इतिहासकारों ने मेरा नाम देश विदेश में उंचा करने का काम किया है। महात्मा गांधी के नमक सत्याग्रह आंदोलन के आवाहन के दौरान डॉ श्रीकृष्ण सिंह के नेतृत्व में गढ़पुरा में नमक कानून को तोड़ा, लेकिन मुझे दुख है कि आंदोलन के इस विरासत को पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करने को लेकर कोई भी उपाय नहीं किए गए हैं।

रामसर साइट में शामिल कावर झील ना तो कृषि बिहार बन सका और ना ही पक्षी विहार। स्थिति यह है कि यह उद्धारक की बाट जोह रहा है। बरौनी रिफाइनरी के कारण स्थापित देवना औद्योगिक क्षेत्र में बुनियादी सुविधाओं के अभाव के कारण मरघटी सन्नाटा छाया हुआ रहता है।

 

मैं बेगुसराय बिहार की शान था और आगे भी रहूंगा

 

विश्वविद्यालय व हवाई अड‌्डा की मांग

 

शैक्षणिक रुप से समृद्ध होने के बावजूद मैं एक विश्वविद्यालय के लिए तरस रहा हूं। 1 लाख 30 हजार विद्यार्थी हमारे यहां पढ़ रहे हैं लेकिन विश्वविद्यालय के लिए हमारे बच्चों को आज भी 130 किलोमीटर की यात्रा करनी पर रही है। आज तक कोई अपना शिक्षा भवन तक नहीं है। सड़कों का विस्तार तो हुआ लेकिन सड़क दुर्घटना रोज मुझे रुला रही है। सड़क सेफ्टी का कोई इंतजाम नहीं है।

फोर लेन व टू लेन पर रोड सेफ्टी का कोई उपाय नहीं होना दुर्घटना के कारण रोज मुझे रुला रहा है। फ्लाईओवर बनाकर राष्ट्रकवि दिनकर गांव सिमरिया एवं शहीद की धरती बिहार के भूगोल को बिगाड़ने का काम किया जा रहा है। स्थानीय लोग एलिवेटेड पुल के निर्माण को लेकर संघर्ष कर रहे हैं। अपहरण हत्या सहित अन्य आपराधिक मामले ज्यादा हो रहे हैं। वहीं दूसरी ओर पुलिस आपराधिक घटनाओं के उद्भेदन करने में पुलिस विफल साबित हो रही है। 12 साल पहले मेडिकल कॉलेज की घोषणा हुई लेकिन 2022 में भी यह जमीन चिन्हित होने से एक कदम आगे नहीं बढ़ पाया है।

/iDrbVik42h

रेलवे ट्रैक पर मिला अधेड़ का शव

09-12-2022 9:13 AM
/Kii8FIPdmc

बेगूसराय में आदमखोर कुत्तों का आतंक, घास काटने निकली महिला को नोंच-नोंचकर

08-12-2022 9:09 AM
/z9h7G4SKjz

आगलगी की घटना:सलौना में आगलगी में तीन घर जलकर राख, 3 लाख

07-12-2022 1:41 PM
/prjZnJeIfP

चलती ट्रेन में चढ़ने के दौरान गिरकर यात्री घायल

05-12-2022 9:07 AM