50 साल बाद खुला बिल्किस जहां का मकबरा:पर्यटक निहार सकेंगे ईरानी स्थापत्य कला, 1970 में केंद्रीय पुरातत्व विभाग

bilkis jahans tomb opened after
Publish : 04-12-2022 11:52 AM Updated : 04-12-2022 11:56 AM
Views : 70

Madhya pradesh: बेगम मुमताज और शाहजहां की बहू बिल्किस जहां के मकबरे की 389 साल पुरानी ईरानी स्थापत्य कला को पर्यटक 50 साल बाद फिर देख सकेंगे। शुक्रवार को मकबरा खोला गया। इसकी मरम्मत कर पुराना स्वरूप लौटाया जाएगा। यहां ईरानी स्थापत्य कला आज भी सभी को लुभा रही है।

 

करीब 389 साल पहले उतावली नदी और ताप्ती नदी तट के बीच बिल्किस जहां का मकबरा बना था। इसके जर्जर होने के कारण 1970 में केंद्रीय पुरातत्व विभाग ने इसे बंद कर दिया था। पर्यटन और पुरातत्व समिति सदस्य कमरूद्दीन फलक और मोहम्मद नौशाद ने मकबरा खुलवाने की मांग की थी। कलेक्टर प्रवीणसिंह ने एडीएम शैलेंद्र सोलंकी को मामला सौंपा।

 

एडीएम सोलंकी ने केंद्रीय पुरातत्व सहायक संरक्षक विपुल मेश्राम से चर्चा की। उन्होंने कहा मकबरे की मरम्मत कराकर केमिकल से धुलाई की जाएगी। इससे मकबरे का पुराना स्वरूप लौटेगा। बहुत जल्द यहां पक्का रोड बनाया जाएगा। इससे पर्यटकों को आवाजाही में सुविधा होगी। 50 साल बाद शुक्रवार को पुरातत्व विभाग ने मकबरा खोल दिया है। करीब 600 वर्गफीट में मकबरे का निर्माण किया गया है।

 

1. 389 साल पुरानी ईरानी स्थापत्य कला आज भी मकबरे में आकर्षण बढ़ा रही है।
2. मकबरा के गुंबद काे खरबूजा फल का आकार दिया है।

 

शाहजहां के बेटे शाहशुजा की बेगम थी बिल्किस

बिल्किस जहां का जन्म 1616 ईस्वी में अजमेर में हुआ था। शाहजहां के बेटे शाहशुजा से उनका निकाह हुआ था। उन्हें बेगमशुजा के नाम से भी जाना जाता था। बुरहानपुर में 1632 ईस्वी में उनका इंतकाल हुआ। यहां मकबरा बनाकर इसमें उनके शव को दफ्न किया गया। मकबरा राष्ट्रीय स्मारक के रूप में दर्ज है।

 

आकार के कारण ही इसे कहा जाता है खरबूजा गुंबद

ईरानी स्थापत्य शैली से बना यह मकबरा आज भी आकर्षण का केंद्र है। इसका आकार खरबूजे की तरह है। इसलिए इसे खरबूजा गुंबद भी कहा जाता है। मकबरे में आकर्षक रंगीन नक्काशी है। सैकड़ों साल बाद यह आज भी पहले की तरह ही सबको लुभा रही है। मकबरे का पुराना स्वरूप बदलने के बाद यह पर्यटन का बड़ा केंद्र होगा।

 

/AAmMP6JvaT

Bihar Marriage in Hospital: मां की टूट रही थी सांसें तो ICU

29-01-2023 11:57 AM
/QMZjjCap7h

गर्व! बिहार की Pushpa Jha 20,000 हजार महिला को मशरूम उगाने की

28-01-2023 8:21 PM
/3fuEFaVkIg

बिहारी लड़के के इश्क में कश्मीरी लड़की मुस्लिम से बनी हिंदू, श्रीनगर

28-01-2023 7:41 PM
/3tYnZs1czw

Road Accident In Begusarai: एंबुलेंस कर्मी की मौत से नाराज 102 कर्मी

28-01-2023 6:55 PM